Indranil Bhattacharjee "सैल"

दुनियादारी से ज्यादा राबता कभी न था !
जज्बात के सहारे ये ज़िन्दगी कर ली तमाम !!

अपनी टिप्पणियां और सुझाव देना न भूलिएगा, एक रचनाकार के लिए ये बहुमूल्य हैं ...

Nov 2, 2010

बधाई हो बंधुओं ! बधाई हो ! चलिए खुशियाँ मनाते हैं ! पार्टी करते हैं !


बधाई हो बंधुओं ! बधाई हो ! चलिए खुशियाँ मनाते हैं ! पार्टी करते हैं !
क्यूँ ?
क्या आपको अभी तक नहीं पता ?
कमाल है ?
तो लीजिये मैं आपको बता देता हूँ ....
Transparency  International द्वारा २०१० का Corruption Perception Index  (भ्रष्टाचार बोध सूचकांक) प्रकाश किया गया है और हम ८७ वां स्थान प्राप्त किये हैं ! है न ख़ुशी की बात ?
क्या ? आप कह रहे हैं की इसमें ख़ुशी की क्या बात है ?
कमाल है, भाई हम अपने ज्यादातर पड़ोशियों से बेहतर स्थिति में हैं ... समझ गए न ?
अब देखिये ... हमारी जानी दुश्मन पाकिस्तान को १४३, नेपाल को १४६, बंगलादेश को १३४, म्यांमार को १७६, श्रीलंका को ९१ और अफगानिस्तान को भी १७६ वां स्थान मिला है .... हाँ चीन और भूटान से हम ज़रा सा पीछे हैं ... उनको क्रमानुसार ७८ और ३६
वां स्थान प्राप्त हुआ है .... है न ख़ुशी की बात ?
हम अपने पड़ोशियों से आगे निकल गए ...
क्या कहा आपने ? ये काफी नहीं है ?
क्या बात करते हैं .... अगर हम इसी तरह डटे रहे तो मुझे यकीन है कि आने वाले २००० साल में हम ५० वे स्थान पर पहुँच ही जायेंगे ... लगी शर्त ?

चलिए आपके लिए हम नीचे वो लिंक दिए देते हैं जिसको आप पढ़ सकते हैं और हमारी बात की तसल्ली कर सकते हैं ...
जय हिंद ! मेरा भारत महान !
और हाँ, मेरे जैसे कुछ आलसी लोग, जो निम्नोक्त लिंक पर जाने की ज़हमत नहीं उठाना चाहते हैं वो यहीं पर देख सकते हैं, मैंने ऊपर वो नक्शा भी दे दिया है ताकि खुदई देख सकें !

http://www.transparency.org/policy_research/surveys_indices/cpi/2010/results
http://www.transparency.org/content/download/55725/890310

37 comments:

  1. काश इस लिस्‍ट में अपना नाम ही न होता।

    ReplyDelete
  2. इंद्रनील भाई .. ८४ से ८७ गए हैं। ट्रेंड तो ऊपर जाने का है, कहीं ५० के पहले का १ तो नहीं छूट गया.....!

    ReplyDelete
  3. ठसाठ्स भरी बस में ...खडे होने की जगह तो मिल गई!...लटक कर सफर करने वालों से तो हम बेहतर है!....बढिया रचना, धन्यवाद!...रिश्वतखोरों की प्रशंसा के लिए मेरे ब्लोग पर पधारे!....दिपावली की शुभ-कामनाएं!

    ReplyDelete
  4. @ ज़ाकिर भाई
    ऐसे कैसे न होता, आपको पाता है इस लिस्ट में नाम रखने के लिए हम सबको कितनी मेहनत करनी पड़ती है ? कितनी मत्थापच्ची ? रिश्वत लेना, रिश्वत देना, जाति पाती के आधार पर वोट करना, अपने भाई बंधुओं को फायदा पहुँचाना, कभी भी प्रतिभा को कोई स्थान न देना, ब्लॉग जगत में भी गुटबाजी करना ... ये सब यूँ ही हो जाता है क्या ?

    ReplyDelete
  5. इन्द्रनील जी अब क्या कहें, किसी को कुछ कह भी नहीं सकते..हम भी इसी देश का हिस्सा हैं...शायद हम भी कहीं न कहीं इतने ही भ्रष्ट हों...या फिर इससे थोड़े कम ही सही...

    ReplyDelete
  6. @ मनोज कुमार जी
    आपने सही कहा, पर अभी बहुत positive mood है ...

    ReplyDelete
  7. @ अरुणा जी
    बस एक पैर पर खड़े हैं जी ... पिछले साल दोनों पैर पे खड़े थे ...

    ReplyDelete
  8. @ शेखर सुमन जी
    इसलिए तो मैंने कहा कि चलिए खुशियाँ मनाते हैं ...

    ReplyDelete
  9. bhttaachary ji bhut khub aankde diye hen . akhtar khan akela kota rajsthan

    ReplyDelete
  10. क्या कहा जाए. चुप भली है.

    ReplyDelete
  11. ये तो वास्तव में गौरव की बात है बंधू!
    हा हा हा!
    करारा व्यंग्य!
    आशीष
    ---
    पहला ख़ुमार और फिर उतरा बुखार!!!

    ReplyDelete
  12. agle 2000 varshon me to shayad hum pratham sthan par hi pahuch jayenge.

    ReplyDelete
  13. .
    .
    .
    अगले २००० साल में ५०वाँ स्थान !

    बहुत खूब!

    वाकई आदर्श स्थिति होगी वह तो... :)


    ...

    ReplyDelete
  14. शीर्षक पढ़कर लगा कि किसी अच्छी बात की चर्चा होगी, लेकिन यह क्या, बीच में ही बेड़ा गर्क...अच्छा व्यंग्य है।

    ReplyDelete
  15. Mai to dua karun ki,aisa kuchh chamatkaar ho aur hamare deshme bhrashtachaar kam ho! Aur kya kahun?

    ReplyDelete
  16. बढ़िया व्यंग ! उम्मीद तो नहीं है की कुछ सुधार होगा , लेकिन देखते हैं आगे क्या होता है । यदि जीवित रहे तो...

    ReplyDelete
  17. फ़िर पार्टी 2000 साल बाद ही करेंगे जी, तब तक तो करने दो जमकर भ्रष्टाचार।

    ReplyDelete
  18. चारों दिशाएं गूज उठी......
    बधाई हो......... बधाई हो........

    ReplyDelete
  19. :) :) हर बात में खुश हो लेते हैं हम लोंग .

    ReplyDelete
  20. शैल जी

    आप से सहमत हु ये उच्च स्थान हमें ऐसे ही खैरात में नहीं मिला है बाकायदा हमने मेहनत की है | एक झटके में ७० हजार करोड़ का भ्रष्टाचार कर डाला अब "आदर्श" स्थापना की कोशिस कर रहे है | पर अभी हमें और मेहनत करनी है बस एक ओलम्पिक का आयोजन करा दे जरुर ५० के ऊपर पहुँच जायेंगे | मेरी शुभकामनाये सभी नौकर शाहों नेताओ के साथ है |

    ReplyDelete
  21. बदलेंगे ये हालात...यक़ीन कीजिए...भरोसा रखिए.

    ReplyDelete
  22. हम यूँ ही अगर खुद को कोसते रहे, एक दिन ये आंकडा पार हो जायेगा :)
    बढ़िया करारा व्यंग.
    शहीद साहब की बात पर - आमीन....

    ReplyDelete
  23. @शिखा जी
    अब हमने कोसा कहाँ है ? हम तो बहुत खुश हैं जी ... आपको हमारी ख़ुशी दिखाई नहीं देती ? हर भारतीय को खुश होना चाहिए की हमको इतना बड़ा नंबर मिल गया ... छोटा मोटा १ या २ से हमारा क्या होगा ...

    ReplyDelete
  24. @ शहीद जी
    अजी इसी भरोसे ५० साल पार कर लिया हमारा देश ... और इसी भरोसे की चटनी बना कर खा रहे हैं हमारे नेता ...

    ReplyDelete
  25. @ zeal
    अजी गलत सलत उम्मीदें मत लगाया करिए, हमारे नेताओं पर भरोसा रखिये ... अब भी नहीं बिगड़ा है तो बिगाड़ ही देंगे ...

    ReplyDelete
  26. @ क्षमा जी
    अजी गए सत्ययुग और त्रेतायुग, अब चमत्कार नहीं होता है ... वैसे ये क्या कम चमत्कार है की अब भी हमारा देश चल रहा है ...

    ReplyDelete
  27. @ महेंद्र जी
    क्या भाईसाब, अब आपने बेडा गर्क करने का दोष भी मेरे ही सर फोड़ेंगे ... चलो मान लेता हूँ मेरे ही कारन भारत ८७ वां स्थान पर आया है ...

    @ शीखा कौशिक जी
    जी हाँ बिलकुल प्रथम ... नीचे से ...

    ReplyDelete
  28. दीदी ...... ज़रूर ......
    पर बोलो क्या यह मात्र एक संबोधन है?
    या एक गहरी भावना ... राखी के धागे सी पावन, अटूट, कर्तव्य और अधिकार से लबरेज !
    क्या यह संबोधन खून के संबंध सा होगा?
    क्या समझ सकोगे दीदी को
    समझा सकोगे खुद को
    लड़ सकोगे?
    ढाल बन सकोगे?
    जब कभी पुकारूं आ सकोगे ?

    ReplyDelete
  29. बाकी तो सब ठीक है भला पाकिस्तान हमसे आगे कैसे हो गया ..... चलो नेशनल मूमेंट चालू करें भ्रष्टाचारी का .... आखिर कार पाकिस्तान को जो हराना है ....

    ReplyDelete
  30. Ohho sach me khushi ki baat h..apko bhi badhayi :)

    ReplyDelete
  31. anumati??????????????? mujhe to diwali ki raushni mil gai... jug jug jiyo - didi ka aashirwaad hamesha saath hai

    ReplyDelete
  32. बधाई हो......... बधाई हो........
    बधाई हो......... बधाई हो........
    आपको और आपके परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामाएं ...

    ReplyDelete

  33. बेहतरीन पोस्ट लेखन के बधाई !

    आशा है कि अपने सार्थक लेखन से,आप इसी तरह, ब्लाग जगत को समृद्ध करेंगे।

    आपको और आपके परिवार में सभी को दीपावली की बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएं ! !

    आपकी पोस्ट की चर्चा ब्लाग4वार्ता पर है-पधारें

    ReplyDelete
  34. अच्छी पोस्ट। आपको व आपके परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें।

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणियां एवं सुझाव बहुमूल्य हैं ...

आप को ये भी पसंद आएगा .....

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...